• [email protected]
Blog Photo

हरिद्वार में अन्न दान: विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट का मानवता को समर्पित प्रयास

विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट द्वारा चलाया जा रहा अन्न दान अभियान न केवल भूखों को भोजन प्रदान करता है, बल्कि समाज में प्रेम, सद्भावना और मानवता की भावना को भी प्रबल करता है।

Blog Photo

अन्न दान – सेवा और मानवता का सच्चा उदाहरण

हिंदू धर्म में अन्न दान को सबसे बड़ा दान माना गया है। भूख केवल शारीरिक कष्ट नहीं है, बल्कि यह मानसिक और आत्मिक कष्ट भी देती है। अन्न दान के माध्यम से हम न केवल भूख मिटाते हैं, बल्कि आत्मा की शांति और तृप्ति भी प्रदान करते हैं।

Blog Photo

पूज्य बापूजी के सानिध्य में विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट हरिद्वार द्वारा हो रहें सेवा के कार्य ‘अन्न दान’ में आप भी सहयोग दें

पूज्य बापूजी का मानना है कि सेवा का सबसे उत्तम रूप वही है जिसमें निस्वार्थ भाव से दूसरों की भलाई की जाए। उनका कहना है, “अन्न दान केवल पेट भरने का साधन नहीं है, यह आत्मा की तृप्ति का भी माध्यम है। जब हम किसी भूखे को भोजन कराते हैं, तो हम उनके भीतर के इंसान को सम्मान देते हैं, और यह हमारे समाज को मजबूत बनाता है।”

Blog Photo

श्रीमद भागवत कथा: अनंत ज्ञान और धर्म का अमृत

16 से 22 अप्रैल 2024 तक, गीताजोल मैरिज गार्डन में आयोजित श्रीमद भागवत कथा ने लोगों को आत्मिक अनुभव के साथ-साथ धार्मिक शिक्षा का महत्वपूर्ण संदेश दिया। इस अद्भुत उत्सव ने न केवल आत्मिक अनुभव का मार्ग प्रशस्त किया, बल्कि समाज को एकता और सेवा के माध्यम से जोड़ा।

Blog Photo

अपने आपको सुधारों, दुनिया सुधर जायेगी : राष्ट्रीय संत श्री चिन्मयानंद बापू

विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट द्वारा टाउनहाल उरई के सामने प्रदर्शनी ग्राउण्ड में आयोजित श्रीराम कथा श्रवण करते हुए कथा व्यास बापू चिन्मयानंद महाराज ने कहा कि श्रीराम कथा मनुष्य को मर्यादित और हैं संस्कारित जीवन जीना सिखलाती है।

Blog Photo

महाशिवरात्रि (Maha Shivratri)

महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) का पर्व हर साल फाल्गुन मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है। हिंदू धर्म में इस पर्व का विशेष महत्व है, इस दिन बाबा भोलेनाथ और मां पार्वती की पूजा की जाती है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान शिव (Lord Shiva) और माता पार्वती (Goddess Parvati) का विवाह हुआ था।

Blog Photo

रामचरित मानस में जीवन जीने की सीख : राष्ट्रीय संत श्री चिन्मयानंद बापू

राष्ट्रीय संत श्री चिन्मयानंद बापू आने वाली 2-8 मार्च 2024 तक उरई में 'श्री राम कथा' करेंगे। यह उनकी 563 वी कथा होगी। इसके लिए तीर्थ क्षेत्र प्रदर्शनी ग्राउण्ड टाउन हॉल के सामने, स्टेशन रोड, उरई क्षेत्र में भव्य पांडाल का निर्माण करवाया गया है. पहले दिन 2 मार्च को कथा दोपहर 1 बजे से होगी।

Blog Photo

समस्त मनोकामनाओं को पूर्ण करती है श्री रामचरितमानसः राष्ट्रीय संत श्री चिन्मयानंद बापू

प्रदर्शनी ग्राउंड टाउन हॉल के सामने प्रारंभ हुई श्री राम कथा के प्रथम दिवस में विश्व विख्यात परम पूज्य संत श्री चिन्मयानंद बापू जी ने कथा का शुभारंभ एवं दीप प्रज्जवलन करते हुए कहा कि श्री रामचरितमानस कलयुग में साक्षात कल्पवृक्ष है जिसकी सानिध्य में बैठने पर व्यक्ति की हर मनोकामनाएं पूर्ण होती है।

Blog Photo

श्रद्धांजलि - कवि प्रदीप जयंती

कवि प्रदीप की जयंती - ‘दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल। साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल॥’

Blog Photo

644th Birth Anniversary of Guru Ravidas

Guru Ravidas was born at the end of the 14th century in Seer Govardhanpur village, Uttar Pradesh, India. He was born into a low caste family who were regarded as untouchables.

Join Vishva Kalyan Mission Trust & become a Volunteer